Polygon: भारत में बनी क्रिप्टोकरेंसी दुनिया की शीर्ष 20 डिजिटल करेंसी में शामिल, जानिए इसके बारे में

इंडिया की क्रिप्टो करेंसी कौन सी है, TOP 10 INDIAN CRYPTOCURRENCY

इंडिया की क्रिप्टो करेंसी कौन सी है: जब से क्रिप्टो करेंसी इंडियन मार्केट में एंट्री क्या है, तब से लोगों की लाइफ में धमाल मचा दिया है. अभी तक हमारे देश भारत में भी कई लोग क्रिप्टो करेंसी से प्रॉफिट कमा चुके हैं, क्रिप्टो करेंसी में INVEST करना और ट्रेडिंग करने के बारे में लोग अभी जान चुके हैं.

इंडिया की क्रिप्टो करेंसी कौन सी है

सोशल मीडिया पर क्रिप्टो करेंसी के बारे में बहुत पॉजिटिव चर्चा की जाती है जिसकी वजह से लोग इनमें निवेश करने की सोचते हैं. अगर किसी को क्रिप्टो करेंसी के बारे में एक्सपीरियंस हो जाती है तो उन्हें इनमें निवेश करके प्रॉफिट लेना बहुत आसान हो जाती है.

लेकिन इसके अलावा हमारे इंडिया में बिग बॉस अमिताभ बच्चन का क्रिप्टो करेंसी दुनिया में एंट्री करना लोगों को क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने के लिए एक पॉजिटिव और मोटिवेशन दिल आ चुकी है और अमिताभ बच्चन क्रिप्टो करेंसी ट्रेडिंग एप्लीकेशन COINDCX का ब्रांड एंबेसडर है.

इंडिया की क्रिप्टो करेंसी कौन सी है

INDIAN CRYPTOCURRENCY: आइए जानते हैं इंडियन की क्रिप्टो करेंसी कौन सी है? PLOLYGON एक ऐसा इकलौता क्रिप्टो कॉइन है जिसे 2019 में शुरू क्या गया था, रिसर्च के मुताबिक पता चला है कि POLYGON में शुरुआत से ही अच्छी ग्रोथ देखी जा रही है. आज की तारीख की कीमत की हिसाब से PLOLYGON का कीमत भारतीय करेंसी के हिसाब से लगभग 151 रुपया है.

बहुत RESEARCH के बाद हमने इस पोस्ट में आपको इंडिया की क्रिप्टो करेंसी कौन सी है, उसके बारे में जानकारी देने की कोशिश की है. क्योंकि हमारे रिसोर्ट के अनुसार अभी तक भारत में कोई भी क्रिप्टोकरंसी INVENT नहीं किया गया है. लेकिन यह बात सच है कि इंडिया में क्रिप्टो करेंसी ट्रेडिंग करने के लिए कई एप्लीकेशन और प्लेटफार्म DEVELOP हो चुकी है जहां आप पूरे सिक्योरिटी के साथ निवेश कर सकते हैं.

इन्वेस्टर के लिए सबसे अच्छे इंडिया की क्रिप्टो करेंसी कौन सी है

हालांकि इंडिया में कोई भी क्रिप्टोकरंसी की शुरुआत नहीं हुई है लेकिन इंडिया के लोगों को क्रिप्टोकरंसी में इन्वेस्ट करने के लिए कई प्लेटफॉर्म बन चुके हैं. और इनमें निवेश करने भारत की क्रिप्टोकरेंसी कौन सी है वाले बड़े-बड़े इन्वेस्टर के अनुसार इंडियन के लिए सबसे अच्छी क्रिप्टोकरंसी नीचे दी गई हैं.

  1. BITCOIN / BTC – PRICE: ₹47,11,887
  2. TETHER / USDT – PRICE: ₹78.72
  3. SHIBA INU / SHIB – PRICE: ₹0.00428
  4. ETHEREUM / ETH – PRICE: ₹3,21,300
  5. DOGECOIN / DOGE – PRICE: ₹20

यह पांच क्रिप्टो करेंसी हमेशा से उनके इन्वेस्टर के लिए पॉजिटिव RETURN दिया है, जिससे इन क्रिप्टोकरंसी पर हमेशा लोगों का भरोसा है.

कई बार लोग इंफॉर्मेशन के लिए और कई बार निवेश करने के लिए इंफॉर्मेशन लेते हैं. अगर आप क्रिप्टो करेंसी में नए इन्वेस्टर है तो इनमें निवेश करने से पहले क्रिप्टो करेंसी के बारे में अच्छे से जानकारी प्राप्त करें फिर निवेश करना शुरू करें.

कई बार लोग बिटकॉइन के अलावा दूसरे क्रिप्टोकरंसी पर निवेश करना पसंद करते हैं क्योंकि आज की तारीख में बिटकॉइन की कीमत बहुत बढ़ चुकी है. ऐसे में अगर निवेश करना चाहते हैं तो आप सबसे सस्ती क्रिप्टोकरंसी या आपके बजट के अनुसार क्रिप्टोकरंसी में पैसे निवेश कर सकते हैं. इंडिया की क्रिप्टोकोर्रेंसी के बारे में भारतीय सरकार की और से कुछ अच्छे खबर यहाँ जानें।

CONCLUSION

कैसा लगा आपको यह इंफॉर्मेशन इंडिया की क्रिप्टो करेंसी कौन सी है? मुझे उम्मीद है कि आपको इस पोस्ट से आप की QUERIES का ANSWER प्राप्त हो चुकी है, अगर इंफॉर्मेशन अच्छी लगती है तो सोशल मीडिया पर इस पोस्ट को जरुर शेयर करें. और क्रिप्टो करेंसी रिलेटेड इन पोस्ट को भी पढ़ें:

Polygon: भारत में बनी क्रिप्टोकरेंसी दुनिया की शीर्ष 20 डिजिटल करेंसी में शामिल, जानिए इसके बारे में

क्रिप्टोकरेंसी वास्तव में एक डिजिटल करेंसी है जिसके जरिए आजकल बेहतरीन रिटर्न कमाने में मदद मिल रही है। दुनिया भर में बहुत सी क्रिप्टोकरेंसी मौजूद हैं जिनमें ट्रेडिंग चल रही है। इनमें बिटकॉइन, डॉगकॉइन, इथेरियम, चिया जैसी क्रिप्टोकरेंसी शामिल है। अगर आप बहुत उत्साही क्रिप्टोकरेंसी निवेशक हैं तो आपको अपनी कुल निवेश पोर्टफोलियो का एक फीसदी से ज्यादा क्रिप्टो में निवेश करने की जरूरत नहीं है।

made-in-india polygon is now among worlds top 20 crypto coins

Polygon: भारत में बनी क्रिप्टोकरेंसी दुनिया की शीर्ष 20 डिजिटल करेंसी में शामिल, जानिए इसके बारे में

पॉलीगॉन के संदीप नैनवाल

तीन भारतीयों द्वारा मिलकर बनाई गई क्रिप्टोकरेंसी पॉलीगॉन (polygon) पिछले हफ्ते मार्केट कैप के लिहाज से 10 अरब डॉलर को पार कर गई है। इस समय इसका मार्केट केपिटलाइजेशन 13 अरब डॉलर पर पहुंच गया है। इसके साथ ही पॉलीगॉन ने दुनिया के शीर्ष 20 क्रिप्टोकरेंसी की सूची में जगह बना ली है। दुनिया भर की क्रिप्टोकरेंसी भारत की क्रिप्टोकरेंसी कौन सी है पर नजर रखने वाली संस्था coinmarketcap.com के आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। दुनिया भर में इन दिनों क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने में लोगों की रुचि बढ़ रही है, हालांकि कई कारणों से क्रिप्टो करेंसी के भाव में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिल रहा है।

मेटिक बना पॉलीगॉन

पॉलीगॉन को पहले मैटिक नेटवर्क के नाम से जाना जाता था। इस साल फरवरी से अब तक इसका मार्केट कैप 10 गुना बढ़ चुका है। इसके ब्लॉकचेन का गेमिंग प्लेयर्स, नॉन फंजिबल टोकंस और डिसेंट्रलाइज्ड फाइनेंस में प्रयोग तेजी से बढ़ रहा है। इसी साल मार्च में नैस्डेक (Nasdac) में लिस्टेड कॉइनबेस ने अपने यूजर को पॉलीगॉन कॉइन में ट्रेड करने की इजाजत दे दी थी।

बाजार की मांग के साथ बदलाव

पॉलीगॉन के सह संस्थापक संदीप नैनवाल ने कहा, "पिछले कुछ समय में पॉलीगॉन की ग्रोथ में काफी तेजी रही है। किसी भी क्रिप्टोकरंसी के साथ स्पेकुलेशन जुड़ा होता है और इसके साथ भी यह सच है कि हमने अपना विजन और कामकाज का स्कोप बढ़ाया है। रियल वर्ल्ड एप्लीकेशन और ग्राहकों की दिलचस्पी बढ़ने की वजह से पॉलीकॉन का बाजार तेजी से बढ़ रहा है। पॉलीगॉन के अन्य संस्थापकों में जयंती कानानी और अनुराग अर्जुन शामिल हैं।

पॉलीगॉन से पावरहाउस

इस साल जनवरी से मई के बीच में पॉलीगॉन पर बनने वाले एप्लीकेशन की संख्या 8 गुना बढ़कर 400 तक पहुंच गई है। पॉलीगॉन इथेरियम ब्लाकचैन पर आधारित क्रिप्टोकरंसी है। ट्विटर के संस्थापक जैक डोर्सी भी ऐसा एक एप्लीकेशन यूज कर रहे हैं। वह भी एनएफटी की तर्ज पर इस तरह के एप्लीकेशन की मदद से मिंटिंग में जुटे हैं। नैनवाल ने कहा, "हम चाहते हैं कि भारत दुनिया में ब्लॉकचेन का पावर हाउस बने।" उनका लक्ष्य दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा क्रिप्टो प्रोजेक्ट बनाना है। बिटकॉइन और इथेरियम के बाद वे पॉलीगॉन को देखना चाहते हैं।

बिटकॉइन से मुकाबला

अगर अमेरिकी यूरोप और चीन की ब्लॉकचेन तकनीक की बात करें तो भारत का यह ब्लॉकचेन स्टार्टअप अभी नवजात अवस्था में है। पश्चिमी देशों की दमदार मौजूदगी वाले स्पेस में भारत के इस कामकाज को नोटिस करने में वक्त लग सकता है। वेस्टर्न प्रोजेक्ट अभी काफी प्रीमियम पर चल रहे हैं। अटेंशन पाने के लिए भारत की कंपनी को 5 गुना अधिक काम करना पड़ सकता है। साल 2019 में पहली बार पॉलीगॉन का टोकन बांटा गया था।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म. पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

IC15: भारत का पहला Cryptocurrency Index लॉन्च, जानें क्या है ये और कैसे करता है काम

aajtak.in

ग्लोबल क्रिप्टो सुपर एप्लीकेशन CryptoWire ने भारत का पहला cryptocurrencies इंडेक्स IC15 लॉन्च किया है. ये इंडेक्स दुनिया से सबसे अधिक ट्रेड होने वाली cryptocurrencies की परफॉर्मेंस को ट्रैक करेगा.

crypto

आपको बता दें कि TickerPlan का स्पेशल बिजनेस यूनिट CryptoWire है. पिछले कुछ सालों में क्रिप्टोकरेंसी एसेट्स बन कर उभरा है. इसे ज्यादा लोग स्वीकार कर रहे हैं और इसकी लोकप्रियता भी काफी बढ़ रही है.

crypto

ये इंडेक्स 80 परसेंट मार्केट मूवमेंट को कैप्चर करता है. ये फंडामेंटल मार्केट ट्रैकिंग और एसेसिंग टूल है जो डिसीजन पर बेस्ड है और ट्रांसपेरेंसी को बढ़ाता है. CryptoWire की इंडेक्स गवर्नेंस कमिटी जिसमें डोमेन एक्सपर्ट्स, इंडस्ट्री प्रैक्टिसनर शामिल होंगे, वो इंडेक्स को मेटेंन, मॉनिटर और एडमिनिस्ट्रेट करेंगे. इसे प्रत्येक तिमाही भारत की क्रिप्टोकरेंसी कौन सी है में रिबैलैंस किया जाएगा.

crypto

IC15 में Bitcoin, Ethereum, XRP, Bitcoin Cash, Cardano, Litecoin, Binance Coin, Chainlink, Polkadot, Uniswap, Dogecoin, Solana, Terra, Avalanche और Shiba Inu शामिल होंगे.

crypto

मुंबई-बेस्ड कंपनी IC15 को क्रिप्टो माइनिंग के इनसाइट को प्रोवाइड करने के लिए डिजाइन किया गया है. ये क्रिप्टो मार्केट का सही बेंचमार्क भी यूजर्स को देगा. इस इंडेक्स से इनवेस्टर्स और इनवेस्टमेंट मैनेजर्स क्रिप्टोकरेंसी की ग्लोबल मार्केट परफॉर्मेंस पर नजर रख पाएंगे.

crypto

आपको बता दें कि क्रिप्टोकरेंसी का चलन भारत में भी खूब बढ़ा है. कई प्लेटफॉर्म के जरिए इसमें लोग इनवेस्ट कर रहे हैं. हालांकि, सरकार इस पर बिल लाने वाली थी लेकिन इस संसद सत्र में क्रिप्टो बिल को पेश नहीं किया गया.

रेटिंग: 4.56
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 670